वारदात को अंजाम देने वाले एक आरोपी को गिरफ्तार कर गटर में मिले श्याम सुंदर का शव के केस का किया खुलासा: डीएलएफ क्राइम ब्रांच फरीदाबाद

0
100
सेफ ओर सिक्योर फरीदाबाद क्राइम न्यूज, दिनांक 08 अगस्त 2019 |हनीश की रिपोर्ट|
जिला फरीदाबाद: थाना डीएलएफ क्राइम ब्रांच ने पैसों के लालच में साथ बैठकर शराब पीने वाले दोस्त ने की थी हत्या।
एटीएम में पैसे देखकर साथी आरोपी के मन में आ गया था लालच।
आपको बताते चले कि दिनांक 01.08.2019 को सुबह सेक्टर 59 फरीदाबाद में सीवर हॉल के अंदर एक नाम पता ना मालूम व्यक्ति की लाश मिली थी।
शव की शिनाख्त श्यामसुन्दर ड्राइवर निवासी गाव अघरबा मौजा सरिया जिला गोन्डा थाना परस्पुर यू.पी के रूप में हुई थी।
जिस पर मृतक श्यामसुन्दर के जीजा रोहित ने श्यामसुन्दर की हत्या करने बारे कुछ लोगों पर अपना शक जाहिर किया था।
मृतक श्याम सुंदर के जीजा के बयान पर दिनांक 01.08.19 को मुकदमा 340 दिनांक 01.08.19 U/S 302, 34 ,201 IPC थाना सेक्टर 58 फरीदाबाद में दर्ज रजिस्टर किया गया था।
घटना की गहनता को देखते हुए पुलिस आयुक्त फरीदाबाद श्री संजय कुमार IPS व पुलिस उपायुक्त अपराध श्री राजेश कुमार HPS के दिशा निर्देश पर सहायक पुलिस उपायुक्त श्री अनिल कुमार HPS ने अपराध शाखा DLF फरीदाबाद ने निम्नलिखित टीम का गठन किया: –
निरीक्षक संजीव कुमार, उप निरीक्षक असरुद्दीन ,उप निरीक्षक अश्वनी कुमार, मुख्य सिपाही प्रवीन ,मुख्य सिपाही ईश्वर , मुख्य सिपाही कृषण (ड्राईवर ), मुख्य सिपाही कुलदीप , सिपाही अनिल ,सिपाही नितिन , सिपाही बिजेंद्र ,सिपाही संदीप।
क्राइम ब्रांच DLF की टीम ने मामले की गहनता से जाँच की तो उपरोक्त वारदात को अंजाम देने वाले आरोपी को दिनांक 06.08.19 को गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की है।
गिरफ्तार आरोपी:-
दीपक पुत्र हरपाल निवासी म.न.272 प्रेमनगर आदर्श नगर थाना फरीदाबाद।
गहनता से पूछताछ की गई तो पता चला कि मृतक श्यामसुन्दर के साथ आरोपी दीपक ने दिनांक 31.07.19 की शाम को साथ बैठकर शराब पी थी।
शराब खत्म होने पर और शराब मंगाने के दौरान आरोपी दीपक को मृतक ने अपने एटीएम कार्ड का पिन न. बता दिया था मृतक के खाते में लगभग 83000 हजार रूपए देखकर आरोपी दीपक के मन में लालच की भावना पैदा हुई जिसके कारण आरोपी दीपक ने मृतक श्यामसुन्दर को और शराब पिलाकर रात लगभग 12:00 बजे अपनी मोटर साइकिल स्प्लेंडर पर बैठाकर ढाबे से थोड़ी दूर ले जाकर 1 चलता हुआ ट्रक के निचे धक्का मारकर श्यामसुन्दर की हत्या कर दी थी।
और श्याम सुंदर के 3 मोबाइल फ़ोन वैगराह निकाल कर श्यामसुन्दर की नाश को सबूत मिटाने की नियत से घसीट कर सड़क के किनारे बने सीवर हाल में डालकर छुपा दिया व हत्या के बाद मृतक के एटीएम कार्ड से 82500 रूपए निकाल लिए थे।
पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि आज आरोपी को अदालत में पेश करके 2 दिन का पुलिस रिमांड लिया गया है।
आरोपी से वारदात में प्रयोग मोटर साइकिल ,मोबाइल फ़ोन ,पैसे और अन्य सबूतों बरामद किए जाएंगे।
किसी भी प्रकार की खबर सांझा करने के लिए संपर्क करे; — हनीश भाटिया – चीफ रिपोर्टर: 99990-48330,
राजेश वशिष्ठ उर्फ बिल्लू – ब्यूरो चीफ/प्रेसिडेंट सेफ ओर सिक्योर ग्रुप फरीदाबाद: 88606-11484