क्राइम ब्रांच सैक्टर 30 प्रभारी विमल कुमार की टीम को मिली कामयाबी धरे गए क्रिकेट खेल के महाकुम्भ के सटोरी: फरीदाबाद

0
150
सेफ ओर सिक्योर फरीदाबाद क्राइम न्यूज, दिनांक 21 जून 2019 |राजेश वशिष्ठ के साथ हनीश की रिपोर्ट|
फरीदाबाद: गौरतलब रहे कि दिनाँक 20.06.19 को क्रिकेट खेल के महाकुंभ में ऑस्ट्रेलिया और बंगलादेश के क्रिकेट मैच के चलते फरीदाबाद क्राइम ब्रांच ने सट्टेबाजों पर बड़ी कार्रवाई करते हुए 2 सटोरियों को गिरफ्तार कर लिया.
पुलिस कार्यवाही :-
Dcp क्राइम फरीदाबाद श्री राजेश व Acp क्राइम श्री अनिल यादव जी के दिशा निर्देश पर कार्यवाही करते हुए क्राइम ब्रांच सैक्टर 30 प्रभारी इंस्पेक्टर विमल कुमार ने मुखबिर की सूचना पर इस कार्यवाही को अंजाम दिया है. सैक्टर 30 क्राइम ब्रांच प्रभारी ने जानकारी देते हुए बताया कि मुखबिर से सूचना मिलने के बाद उनके नेतृत्व में Nit कस्बे के एक मकान पर दबिश दी गई. दबिश में 2 सटोरियों को क्रिकेट मैच पर सट्टा लगाते और खाईवाली करते हुए गिरफ्तार किया गया है. प्रभारी क्राइम ब्रांच इंस्पेक्टर विमल के मुताबिक सटोरियों से 3 मोबाइल व करीब 6000 हजार रुपये नकद ओर सट्टे से जुड़े हिसाब किताब की पर्चियां बरामद की हैं. यही नहीं वहां से पुलिस को पुराने क्रिकेट मैचों पर लगे करीबन लाखो रुपये का लेखा जोखा भी मिला है. पुलिस ने मौके से एलईडी टीवी, सेट टॉप बॉक्स सहित कई उपकरण भी कब्जे में लिए हैं.
क्राइम ब्रांच प्रभारी ने बताया कि आरोपियों से पूछताछ की जा रही है. जो भी इस सट्टा खाईवाली के काम से जुड़ा होगा उसपे सख्त कानूनी कार्यवाही की जाएगी
आरोपी ऑस्ट्रेलिया और बंगलादेश के वर्ल्डकप क्रिकेट मैच पर सट्टेबाजी को अंजाम दे रहे थे.
पूछताछ आरोपीगण :-
आरोपी जितेंद्र व संदीप ने पूछताछ पर बतलाया की सट्टे के खेल में कोड वर्ड का इस्तेमाल होता है। सट्टे पर पैसे लगाने वाले को फंटर कहते हैं। जो पैसे का हिसाब किताब रखता है, उसे बुकी कहा जाता है। सट्टा लगाने वाले फंटर 2 शब्द खाया और लगाया का इस्तेमाल करते हैं। यानी किसी टीम को फेवरिट माना जाता है तो उस पर लगे दांव को लगाना कहते हैं। ऐसे में दूसरी टीम पर दांव लगाना हो तो उसे खाना कहते हैं। इस खेल में डिब्बा अहम भूमिका निभाता है। डिब्बा मोबाइल का वह कनेक्शन है, जो मुख्य सटोरियों से फंटर को कनेक्शन देते हैं। जिस पर हर बॉल का रेट बताया जाता है। पूरे आईपीएल के दौरान डिब्बे का कनेक्शन ढाई से 3 हजार से 5 हजार में मिलता है। डिब्बे का कनेक्शन एक खास नंबर होता है, जिसे डायल करते ही उस नंबर पर कमेंट्री शुरू हो जाती है। सट्टा क्रिकेट मैच में 2 सेशन में लगता है। दोनों सेशन 25-25 ओवर के होते हैं
पकड़े गए आरोपियों की पहचान:-
1. जितेंद्र पुत्र सुभाष निवासी मकान न0 37 WH NIT -5 फरीदाबाद
2. संदीप पुत्र सुभाष निवासी मकान न0 36 WH NIT -5 फरीदाबाद
रिकवरी :
1. एक एलईडी टीवी 
2. 3 मोबाइल फोन
3. बाल पैन
4. सट्टा पर्ची
5. 6000 रुपये नकद
6. केबल सेट टॉप बॉक्स
किसी भी प्रकार की खबर सांझा करने के लिए संपर्क करे; — हनीश भाटिया – चीफ रिपोर्टर: 99990-48330,
राजेश वशिष्ठ उर्फ बिल्लू – ब्यूरो चीफ/प्रेसिडेंट सेफ ओर सिक्योर ग्रुप फरीदाबाद: 88606-11484